_ap_ufes{"success":true,"siteUrl":"hindi.khoobsurati.com","urls":{"Home":"http://hindi.khoobsurati.com","Category":"","Archive":"http://hindi.khoobsurati.com/2018/01/","Post":"http://hindi.khoobsurati.com/this-is-how-veterans-can-take-care-of-their-health-in-winter/","Page":"http://hindi.khoobsurati.com/video/","Attachment":"http://hindi.khoobsurati.com/dhunt/","Nav_menu_item":"http://hindi.khoobsurati.com/47864/","Custom_css":"http://hindi.khoobsurati.com/smart-mag/","Acf":"http://hindi.khoobsurati.com/?acf=acf_url"}}_ap_ufee

एक माँ अपनी बेटी को जरूर दें ये सीख, बेटी को लाइफ में आएगी बड़े काम

 

माँ और बेटी का रिश्ता दुनिया के सबसे प्यारे रिश्तों में से एक होता है। माँ – बेटी के रिश्ते के अलावा इनमें दोस्ती का रिश्ता भी बखूबी होता है। इनमें अच्छे दोस्तों की तरह कभी – कभी नोंक – झोंक देखने को मिलती है जो दूसरे ही पल प्यार में बदल जाती है। माँ अपनी बेटी की जिम्मेदारियों को अच्छे से निभाने की कोशिश करती है। वह बेटी को अच्छे और बुरे की जानकारी देने और उसकी सुरक्षा को लेकर हर वक्त चिंतित रहती है। वह एक अच्छी माँ और दोस्त, दोनों ही रिश्तों में अपनी पेरफेक्ट भूमिका निभाने की कोशिश करती है। मर्दस के लिए जरुरी है कि वह अपनी बेटी को ये सीख जरूर दें, क्योंकि कुछ बातें ऐसी होती है, जो वह अपनी बेटी को जरूर समझाना चाहती है, ताकि जिंदगी में उसकी लाडली को किसी तरह की दिक्कत का समाना न करना पड़ जाएं। आज हम आपको उन्हीं बातों के बारे में बताएंगे, जिनके बारे में बेटी को बताना और समझाना बहुत जरूरी है।

यह भी पढ़ें – मां-बेटी के बीच नोकझोंक के होते हैं यह कारण

1. खुद पर रहे निर्भर (Be self-dependent) –

जैसे – जैसे बेटी बड़ी होती है तो उसे दूसरों के बजाए खुद पर निर्भर रहने की शिक्षा दें। बेटी को बताएं कि अपने काम के लिए दूसरों पर निर्भर बिल्कुल न रहें क्योंकि इससे उनका ही नुकसान है।

Be self-dependentImage Source: 

2. करियर की अहमियत (Importance of carrier) –

बेटी को बताएं कि लाइफ में अपना करियर बनाना बेहद जरूरी है। उसे करियर की अहमियत बताते हुए करियर का चुनाव करने में उसकी मदद भी करें। बेटी को हमेशा उसके करियर के लिए प्रोत्साहित करें।

Importance of carrierImage Source: 

यह भी पढ़ें – सुसराल में लड़कियां कुछ इस तरह से याद करती है अपनी मां को..

3. खुद पर स्वाभिमान (Self – respect) –

माँ को अपनी बेटी को हमेशा यह बात बतानी चाहिए कि वह जैसी भी है बिल्कुल परफेक्ट है। बेटी को अपनी काबलियत जनाने को कहें। उसको बताएं कि लाइफ में स्वाभिमानी और अपने आत्मविश्वास को बढ़ाएं।

Self - respectImage Source: 

4. दूसरों के साथ अच्छा व्यवहार (Good behaviour with others) –

जैसे – जैसे बच्चे बड़े होते जाते है वह अपने बड़ों से बात करने का सलीका तक भूल जाते है। ऐसे में अपने बच्चों को बताएं कि कैसे बड़ों से बात करनी चाहिए। उन्हें बताएं कि बड़ा चाहे कोई भी उनके साथ आदर के साथ बात करें।

Good behaviour with othersImage Source: 

यह भी पढ़ें – अपनी बेटी को पहले पीरियड्स के लिए ऐसे करें तैयार

Share.

About Author

hellois95
Copyright 2015 hindi.khoobsurati.com
Youtube to Mp3