_ap_ufes{"success":true,"siteUrl":"hindi.khoobsurati.com","urls":{"Home":"http://hindi.khoobsurati.com","Category":"","Archive":"http://hindi.khoobsurati.com/2017/11/","Post":"http://hindi.khoobsurati.com/here-is-how-women-gain-weight-after-marriage/","Page":"http://hindi.khoobsurati.com/contest/","Attachment":"http://hindi.khoobsurati.com/carbohydrate-rich-diet-will-give-you-pleasure-of-being-mother/carbohydrate-rich-diet-will-give-you-pleasure-of-being-mother-cover/","Nav_menu_item":"http://hindi.khoobsurati.com/25909/","Acf":"http://hindi.khoobsurati.com/?acf=acf_url"}}_ap_ufee

बच्चे को कामयाब बनाने के लिए जरूरी है- मां की डांट

एक बच्चे के लिए उसकी मां से बढ़कर कुछ और नहीं होता है। एक छोटे बच्चे को हमेशा अपने आसपास मां दिखनी चाहिए। मां अगर अपने बच्चे को प्यार करती है तो वह अपने बच्चे को समय आने पर डांटती भी है। मां की डांट बच्चों के लिए काफी मददगार साबित होती हैमां की डांट से ही बच्चे अपनी बुरी आदतों को दूर करते हैं और यही मां की डांट बच्चों का भविष्य सुधारने में काफी मदद करती है।

आइए आपको बताते हैं कि मां की डांट किस तरह से हमारे भविष्य को सुधारने में मदद करती है।

यह भी पढ़ेः खून की कमी होने पर अपने एक साल के बच्चे को खिलाएं यह चीजें

1 देखरेख करना (Take care of kids)
बच्चे चाहें कितने भी बड़े हो जाएं, लेकिन एक मां के लिए वह हमेशा एक छोटे बच्चे की तरह ही होते हैं। मां को अपने बच्चे की चिंता हर समय होती है। मां को हमेशा चिंता लगी रहती हैं कि उसके बच्चे ने खाना खाया भी है या फिर नहीं।

Take care of kidsimage source:

2 जिम्मेदार बनाएं (Responsible person)
मां की डांट एक बच्चे को जिम्मेदार बनाने में मदद करती है। स्कूल बैग में किताबें रखने के साथ टिफिन पूरी तरह से खत्म करके आना, यह सारे काम हम मां की डांट के कारण ही करते आएं हैं। यह बातें बचपन में तो बहुत बुरी लगती है, लेकिन बड़े होकर यह बातें बहुत याद आती है और हमें याद आती है किस तरह से मां की डांट ने हमें इस काबिल बनाया है।

Responsible personimage source:

यह भी पढ़ेः अपने बच्चे की कब्ज की समस्या कुछ यूं करें दूर

3 अनुशासन में रहना (Discipline)
अनुशासन का पाठ भी बचपन में मां ही सीखाती है। स्कूल के लिए जल्दी उठना, छुट्टी वाले दिन भी बच्चों को जल्दी उठने के लिए कहना ताकि बच्चों को देर से उठने की आदत ना पड़ जाए।

Disciplineimage source:

4 बात करने का सही तरीका (Right way to talk)

एक मां अपने बच्चे को दूसरे के सामने सही तरीके से बात करना और उनके सामने सही तरह से पेश आना सीखाती है। मां बचपन से ही अपने बच्चे को डांटती है ताकि वह आगे जाकर अच्छे और बुरे में फर्क कर सकें।

Right-way-to-talkimage source:

यह भी पढ़ेः आपके बच्चे अगर जंक फूड का सेवन अधिक करते हैं तो हो सकती हैं यह समस्या

Share.

About Author

hellois84
Copyright 2015 hindi.khoobsurati.com
Youtube to Mp3