_ap_ufes{"success":true,"siteUrl":"hindi.khoobsurati.com","urls":{"Home":"https://hindi.khoobsurati.com","Category":"","Archive":"https://hindi.khoobsurati.com/2018/07/","Post":"https://hindi.khoobsurati.com/make-sweet-sattu-at-home-by-this-method-and-reap-its-various-benefits/","Page":"https://hindi.khoobsurati.com/contact-us/","Attachment":"https://hindi.khoobsurati.com/?attachment_id=52878","Nav_menu_item":"https://hindi.khoobsurati.com/52144/","Custom_css":"https://hindi.khoobsurati.com/smart-mag/","Oembed_cache":"https://hindi.khoobsurati.com/102ebe2e07459f025b95ebe02763198d/","Acf":"https://hindi.khoobsurati.com/?acf=acf_url"}}_ap_ufee

15 वर्षीय अनिष ने पुरुष शुटिंग में देश को दिलाया गोल्ड मेडल

जैसा कि आप जानते ही हैं कि इस समय देश में कोमन वेल्थ गेमस चल रही है। जिनमे भारत की महिलाओं ने खूब दम दिखाया है। हाल ही में महिला वेट लिफ्टिंग में सिल्वर और महिला शूटिंग में गोल्ड मेडल जीता था। अब बीते दिनो शुटिंग में पुरुष वर्ग में 15 साल अनिष भानवाला ने गोल्ड मेडल जीत कर देश को गौरवान्वित किया है। इसके साथ ही वह भारत के सबसे युवा कोमन वेल्थ गोल्ड मैड्लिस्ट भी बन गए है। अनिष ने शुटिंग में 30 पवाइंट हासिल कर अपने लिए गोल्ड सुनिश्चित किया। अनिष की इस जीत के बाद अब तक भारत की झोली में 16 मेडल आ चुके है, जोकि भारत के लिए एक अच्छी खबर है।

अनिष के गेम की बात करें तो शुरुआती क्वालीफाई मुकाबलों को तो उसने 580 पवाइंट लेकर आसानी पार कर लिया। हालांकि गेम में नीरज कुमार भी ज्यादा पीछे नही था उसने भी 579 पवाइंट हासिल किये। इस दौरान फाइनल मुकाबले की शुरुआत के साथ ही अनिष ने खेल में अपना संयम बरकरार रखा, जिसकी बदौलत वह शुरु में ही आस्टेलियन खिलाड़ी डेविड चैपमैन से 13 पवाइंट से आगे निकल गया। अनिष ने पुरे मुकाबले में अपनी बढ़त बरकरार रखी, जिसके नतीजतन अनिष पहले स्थान पर रहा जबकि डेविड दूसरे स्थान पर रहे।

गोल्ड मेडलImage source:

एलिमिनेटर मुकाबले में भी अनिष आस्टेलिया के सेरगी एवगलेवस्की से 4 पवाइंट से आगे रहे, जबकि भारत के ही नीरज अपनी बढ़त बनाए रखने में नाकामयाब रहे और 13 पवाइंट के साथ 5वें स्थान पर रहे। हालांकि एलिमिनेटर राउंड के आखिरी 3 पड़ावों में एवगलेवस्की ने पूरे 5/5 पवाइंट लेकर अपने और भारतीय शुटरों के बीच के अंतर को मात्र 2 पवाइंट पर पहुंचा दिया। चुहे बिल्ली की यह दौड़ पुरे मुकाबले दौरान चलती रही।

गोल्ड मेडलImage source:

मगर अपने आखिरी राउंट में अनिष ने पांचो शाट्स निशाने पर लगाकर खुद को 30 पवाइंट के शिखर पर पहुंचा दिया जिसके बाद आस्ट्रेलियाई खिलाड़ी का वहां तक पहुंच पाना नमुमकिन सा हो गया। अपनी जीत के बाद अनिष ने इसका श्रेय अपने कोच पूर्व सीडब्लयूजी गोल्ड मैडलिस्ट जसपाल राणा को दिया। आपको बता दें कि अनिष की बड़ी बहन मुस्कान भी नैशनल लेवल शुटर है।  हालांकि अनिष के लिए पहला गोल्ड नही है बल्कि इससे पहले भी वह जुनियर वर्ल्ड चैम्पियनशीप में गोल्ड मेडल जीत चुका है। उस दौरान भी क्वालिफेक्शन राउंड में वर्ल्ड रिकार्ड बनाया था।

hellois22

Copyright 2018 hindi.khoobsurati.com