_ap_ufes{"success":true,"siteUrl":"hindi.khoobsurati.com","urls":{"Home":"https://hindi.khoobsurati.com","Category":"","Archive":"https://hindi.khoobsurati.com/2018/12","Post":"https://hindi.khoobsurati.com/benefits-of-vitamin-e.html","Page":"https://hindi.khoobsurati.com/contact-us.html","Attachment":"https://hindi.khoobsurati.com/benefits-of-vitamin-e.html/img_%e0%a4%86%e0%a4%82%e0%a4%96%e0%a5%8b%e0%a4%82-%e0%a4%95%e0%a5%87-%e0%a4%b2%e0%a4%bf%e0%a4%8f-%e0%a4%ab%e0%a4%be%e0%a4%af%e0%a4%a6%e0%a5%87%e0%a4%ae%e0%a4%82%e0%a4%a6_2018_12-1","Nav_menu_item":"https://hindi.khoobsurati.com/52144.html","Custom_css":"https://hindi.khoobsurati.com/smart-mag.html","Oembed_cache":"https://hindi.khoobsurati.com/102ebe2e07459f025b95ebe02763198d.html","Acf":"https://hindi.khoobsurati.com/?acf=acf_url","Wpcf7_contact_form":"https://hindi.khoobsurati.com/?post_type=wpcf7_contact_form&p=53539"}}_ap_ufee

आयुर्वेद पद्दति का यूज कर आप ले सकती हैं मानसून का पूरा आनंद

गर्मी के परेशानी भरे मौसम के बाद जब मानसून के महीने की शुरुआत होती है तो यह समय किसी त्यौहार से कम नहीं लगता। गर्मी के मौसम में जहां एक और सभी लोग परेशान रहते हैं वहीं दूसरी और मानसून का मौसम सभी लोगों के लिए एक वरदान बनता है। मानसून के मौसम का आनंद लेने के लिए लोग तरह तरह के कार्य करते हैं। लेकिन इस बात को भी ध्यान रखा जाना चाहिए की मानसून की बरसात आपकी सेहत को भी ख़राब कर सकती है। इस मौसम में संक्रमण संबंधी बीमारियां बहुत तेजी से फैलती हैं। अतः मानसून के मौसम में हमें अपनी दिनचर्या तथा खानपान को इस मौसम के अनुकूल कर लेना चाहिए।

इसी क्रम में आज हम आपको बता रहें हैं की कैसे आप आयुर्वेदिक पद्दति का यूज करके मानसून का मौसम का आनंद ले सकते हैं। जब आप आयुर्वेद की सलाह को मानते हैं तो मानसून के मौसम में न तो बीमार पड़ते हैं और न ही किसी प्रकार की समस्या से ग्रसित होते हैं। आइये अब आपको विस्तार से बताते हैं की मानसून के मौसम में आपको आयुर्वेद के अनुसार अपनी दिनचर्या तथा खानपान में क्या बदलाव करने होते हैं।

1 – ज्यादा ऑयली चीजें न करें सेवन

ज्यादा ऑयली चीजें न करें सेवनImage source:

मानसून के मौसम में आपकी पाचन शक्ति कमजोर हो जाती है। अतः इस समय पर आप ज्यादा ऑयली चीजों का सेवन करने से बचें। मूंगफली, सरसों या बटर के स्थान पर सनफ्लॉवर, ऑलिव ऑयल या घी का यूज भोजन बनाने में करें। मतलब भारी तेलों का भोजन बनाने में उपयोग न करें।

2 – हल्के भोज्य पदार्थों का करें सेवन

हल्के भोज्य पदार्थों का करें सेवनImage source:

मानसून के मौसम में आपको हल्के भोज्य पदार्थों का सेवन करना चाहिए। भारी भोजन नहीं करना चाहिए। आपको बता दें की बरसात के मौसम में आप स्टीम की हुई सलाद, उबली सब्जियां, खिचड़ी, मूंग की दाल, ओटमील, काबुली चने का आटा जैसी चीजों का सेवन करें। ये सभी जल्दी पच जाती हैं।

यह भी पढ़ें – मानसून के दौरान डाइट में शामिल करें ये चीजें, बची रहेंगी बीमारियों से

3 – मसालों से बचकर रहें

मसालों से बचकर रहें Image source:

आयुर्वेद के अनुसार बरसात के मौसम में मसालों से बचकर ही रहना ही उत्तम है। इस मौसम में आप तेज मिर्च वाले या चटपटे भोजन से दूरी बनाकर रखें। इसके अलावा आचार, करी, चटनी, दही, खट्टे या तीखे भोजन का सेवन न करें। इस प्रकार की चीजों के सेवन से आपको एसिडिटी, अपच, गैस तथा पेट दर्द जैसी समस्याएं हो जाती हैं।

4 – बाहर खाने से बचें

बाहर खाने से बचेंImage source:

कई बार लोग बाहर सड़क किनारे बिकने वाली चीजों का सेवन कर लेते हैं। मानसून के मौसम में ऐसा बिलकुल नहीं करना चाहिए अन्यथा आपके बीमार होने का ख़तरा बढ़ जाता है। यदि आप बाहर किसी खाद्य पदार्थ को खा भी रहें हैं तो यह ध्यान रखें की वह स्थान साफ़ सुथरा होना चाहिए। इस प्रकार यदि आप आयुर्वेद की ये सलाह मानते हैं और मानसून के मौसम में इनको उपयोग में लाते हैं तो आप बीमार नह पड़ते हैं तथा मानसून के मौसम का पूरा आनंद भी लेते हैं।