_ap_ufes{"success":true,"siteUrl":"hindi.khoobsurati.com","urls":{"Home":"https://hindi.khoobsurati.com","Category":"","Archive":"https://hindi.khoobsurati.com/2018/08/","Post":"https://hindi.khoobsurati.com/these-are-the-makeup-tips-by-sonakshi-sinha-that-you-can-use/","Page":"https://hindi.khoobsurati.com/contact-us/","Attachment":"https://hindi.khoobsurati.com/?attachment_id=53382","Nav_menu_item":"https://hindi.khoobsurati.com/52144/","Custom_css":"https://hindi.khoobsurati.com/smart-mag/","Oembed_cache":"https://hindi.khoobsurati.com/102ebe2e07459f025b95ebe02763198d/","Acf":"https://hindi.khoobsurati.com/?acf=acf_url"}}_ap_ufee

एलर्जी के कारण एवं उससे छुटकारा पाने के उपाय…

आज की भागदौड़ भरी जिंदगी में लोगों की दिनचर्या में और जीवनशैली में जितना बदलाव आया है, लोग उतनी ही कई छोटी बड़ी बीमारियों से परेशान हो रहें हैं। एक तो लोगों का खान-पान, दूसरा बाहरी धूल मिट्टी, धुएं से प्रदूषित जहरीला वातावरण, जो हमारे जीवन की सभी गतिविधियों को प्रभावित कर रहा है। इससे शरीर में बीमारियों ने अपनी एक खास जगह बना ही ली है। साथ ही बदलते मौसम में एलर्जी का खतरा होना आम बात है। जो इम्यून सिस्टम को कमजोर करता है। जब किसी इंसान का कमजोर ‘इम्यून सिस्टम’ यानी रोग प्रतिरोधक तंत्र वातावरण में मौजूद नुकसान देने वालें पदार्थों के संपर्क में आता है, तो एलर्जी जैसी समस्यां का कारण बनता है। यह समस्यां शहरी वातावरण के लोगों में ज्यादातर ही पाई जाती है।

वैसे तो एलर्जी मुख्यतः दो तरह की होती है। पहली मौसमी, जो बदलते मौसम के कारण होती है या साल में किसी खास वक्त के दौरान ही होती है और दूसरी बारहमासी, जो पूरे साल चलती है। दोनों तरह की एलर्जी के लक्षण एक जैसे होते हैं।

एलर्जी के लक्षण

Allergies SymptomsImage Source:http://www.healthcare-components.com/
  • आंखें लाल होना, उनमें खुजली होना और पानी बहना।
  • लगातार सर्दी बनी रहना और नाक बहना।
  • नाक बंद होने के कारण सांस लेने में समस्यां होना।
  • लगातार छींकते रहना।

मौसमी एलर्जी से बचाव

Avoiding-Seasonal-AllergiesImage Source:http://i.cbc.ca

1. बदलते मौसम में जिन चीजों से आप ज्यादा प्रभावित होते हैं, उससे आपकी एलर्जी बढ़ जाती है। उन सभी को आप खत्म तो नहीं कर सकते, लेकिन कुछ कदम उठाकर आप इसके लक्षणों को नियंत्रित जरूर कर सकते हैं। साथ ही एलर्जी पैदा करने वाले तत्वों के प्रभाव को कम भी कर सकते हैं।

2. बरसात के मौसम में हमारे चारों ओर के वातावरण में नमी की मात्रा बढ़ जाती है। जिससे हवा रहित दिनों में पराग कणों का स्तर कम होता है। गर्म, शुष्क और हवा वाला मौसम वायुजनित पराग कणों और एलर्जी के लक्षणों को बढ़ा सकता है। इसलिए ऐसे दिनों में बाहर कम आएं-जाएं और खिड़कियों को बंद करके रखें।

3. आप अपने बगीचे या आंगन को साफ सुधरा रखें। इसके अलावा लॉन की घास को ज्यादा न बढ़ने दें। बगीचे में लगे रंगीन फूल सबसे अच्छे होते हैं क्योंकि वे ऐसे पराग कण पैदा करते हैं, जिनसे एलर्जी नहीं होती।

बारह महिने रहनें वाली एलर्जी से बचाव

अगर आप पूरे साल एलर्जी से पीड़ित रहते हैं, तो इसका कारण धूल मिट्टी और आपके घर या ऑफिस का प्रदूषित वातावरण हो सकता है। जिनमे सफाई ना होने से डस्ट की परत जम जाती है। जो आपकी एलर्जी का कारण बनती है। एलर्जी के लक्षणों को कम करने के लिए सबसे बढ़िया तरीका है कि आप अपने घर और ऑफिस को साफ-सुथरा रखें।

allegyImage Source:https://well.ca/

पालतू जानवरों से एलर्जी

ज्यादातर एलर्जी के बने रहने का कारण घर में पलने वाले पालतु जानवर भी होते हैं। घार के बिल्ली और कुत्ते से भी इसका खतरा बढ़ जाता है। जब जानवर अपने आपको चाटते हैं, तो उनकी लार में मौजूद प्रोटीन भी फर से चिपक जाते हैं। जब यह सूख जाते हैं तो वह हवा में उड़ते हैं। जानवरों की लार से निकलने वाले एलर्जन कार्पेट, कालीन और फर्नीचर में इकट्ठा हो जाते हैं, जो कम से कम चार सप्ताह तक सक्रिय अवस्था में रहते हैं। यह कई महीनों तक हवा में मौजूद रह सकते हैं। जिसके सम्पर्क में रहने से हम इसके शिकार हो जाते हैं।

Pet-AllergiesImage Source:http://image.isstime.co.kr/

एलर्जी से बचने के उपाय

maskImage Source:http://www.raialyoum.com/

समस्यां से निजात पाने के उपाय

1. अगर आप एलर्जी से बचना चाहते हैं, तो अपने घर के आस पास गंदगी को न रहने दें।

2. आप अपने घरों में अधिक से अधिक खुली और ताजा हवा आने का मार्ग प्रशस्त करें।

3. जिन खाद्य पदार्थों से एलर्जी होती है उन्हें न खाएं।

4. बरसात के मौसम में नमी से बचे और इसके अलावा एकदम गरम से ठन्डे और ठन्डे से गरम वातावरण में न जाएं।

5. बाइक चलाते समय मुंह और नाक पर रुमाल बांधे, आँखों पर धूप का अच्छी क़्वालिटी का चश्मा लगाएं।

6. गद्दे, रजाई, तकिए के कवर एवं चादर आदि समय समय पर गरम पानी से धोते रहें।

7. अपने घरों के रजाई ,गद्दे ,कम्बल आदि को समय समय पर धूप दिखाते रहें।

8. पालतू जानवरों से दूर रहें। अगर उनसे एलर्जी है तो उन्हें घर में ना रखें।

9. ज़िन पौधों के पराग कणों से एलर्जी है उनसे दूर रहे।

10. घर में मकड़ी वगैरह के जाले न लगने दें। समय समय पर साफ सफाई करते रहें।

11. धूल मिटटी से बचें, यदि धूल मिट्टी भरे वातावरण में काम करना ही पड़ जाए तो फेस मास्क पहन कर काम करें।

एलर्जी से बचने के घरेलू नुस्खे

Water-vaporImage Source:http://sveikata.tv3.lt/

1. एलर्जी से छुटकारा पाने के लिए आप नीबू के रस में एक चम्मच शहद को मिलाकर एक गिलास गुनगुने पानी में मिला दें। इसे आप रोजाना सुबह कई महीनों तक पिएं। इससे आपका इम्यून सिस्टम इतना मजबूत हो जाएगा कि शायद ही एलर्जी हो।

2. पानी की भाप, यह किसी भी तरह की एलर्जी के इलाज के बेहतरीन तरीकों में से एक है।

3. नीम की पत्तियों को पीसकर पेस्ट बना लें और उस पेस्ट की छोटी-छोटी गोलियां बना लें, इसे शहद में डुबोकर रोज सुबह खाली पेट इसे निगल लें। अगले एक घंटे तक कुछ न खाएं, ताकि नीम का आपके शरीर पर असर हो सके। यह तरीका हर तरह की एलर्जी में फायदा पहुंचाता है।

Make-a-paste-of-neem-leaves-powderImage Source:https://s-media-cache-ak0.pinimg.com/

एलर्जी जैसे रोगों से बचने में रोगी के खान पान और रहन सहन का बहुत अधिक महत्व होता है। अपने खान पान और रहन सहन को ठीक रखते हुए आप हमारे द्वारा बताए गए उपायो को जरूर अपनाएं। जो आपको एलर्जी से लड़ने में मदद करेंगे। एलर्जी से छुटकारा पाने के लिए कई अंग्रेजी दवाएं तो मौजूद है ही, लेकिन यह बीमारी को जड़ से ख़त्म नहीं करती है। वहीं घरेलू उपायों को अपनाकर एलर्जी से बचा जा सकता है।

About Author

"जिंदगी कितनी खुबसूरत है ये देखने के लिए हमें ज्यादा दूर जाने की जरुरत नहीं है, जहाँ हम अपनी आंखे खोल ले वहीँ हम इसे देख सकते है ।"

hellois40

Copyright 2018 hindi.khoobsurati.com