_ap_ufes{"success":true,"siteUrl":"hindi.khoobsurati.com","urls":{"Home":"https://hindi.khoobsurati.com","Category":"","Archive":"https://hindi.khoobsurati.com/2018/06/","Post":"https://hindi.khoobsurati.com/not-because-of-mobile-computer-this-is-the-reason-why-your-eyesight-gets-weak/","Page":"https://hindi.khoobsurati.com/contact-us/","Attachment":"https://hindi.khoobsurati.com/not-because-of-mobile-computer-this-is-the-reason-why-your-eyesight-gets-weak/books-cover/","Nav_menu_item":"https://hindi.khoobsurati.com/52144/","Custom_css":"https://hindi.khoobsurati.com/smart-mag/","Oembed_cache":"https://hindi.khoobsurati.com/102ebe2e07459f025b95ebe02763198d/","Acf":"https://hindi.khoobsurati.com/?acf=acf_url"}}_ap_ufee

फील्ड वर्क करने वालों को हो सकता है स्किन कैंसर, रहें सावधान

आज के समय में काम करना हर किसी प्राथमिकता है। बिना इसके जीवन यापन संभव नही है। काम करने वाले लोगों में कुछ ऐसे लोग भी हैं जिन्हें सुबह शाम बाहर घूम घूम कर काम करना पड़ता है। दुनिया भर में लोगों की एक बहुत बड़ी संख्या इस प्रकार की नौकरियां करते हैं। मगर अधिकतर लोग इस बात से पूरी तरह से अंजान है कि बाहर घूमने वाली यह नौकरियां आपके लिए स्किन कैंसर का खत्तरा पैदा करती हैं। दरअसल काम के सिलसिले में जब यह लोग सारा सारा दिन बाहर धूप में घूमते रहते हैं तो सूरज से निकलने वाली अल्ट्रावॉयलेट किरणे त्वचा को प्रभावित करती हैं। ये किरणें त्वचा में कैंसर पैदा करने का कारण बनती है और तो और यह सबसे आम कैंसर है दुनिया भर के लोगों में सबसे जल्दी पैदा होता है। आइये जानते है इसके बारे में।

शोध ने दिया प्रमाण –

शोध ने दिया प्रमाण Image source:

स्किन पर होने वाले इस कैंसर को नॉन मेलेनोमा कहा जाता है। दुनिया के बहुत से देशों में ये कैंसर काफी मात्रा में फैल चुका है। ये ज्यादातर उन लोगों को अपनी चपेट में लेता हो जो लोग धूप में मजदूरी इत्यादि का कार्य करते हैं। इस बारे में हुई एक रिसर्च की गई है, जिसमे कुल 563 लोगों पर जांच की गई। इन लोगों में 47 फीसदी महिलाएं थी जबकि अन्य पुरुष। इन 563 लोगों में से 348 लोग ऐसे थे जो कि बाहर मजदूरी या फिर अन्य प्रकार के काम करते हैं और अन्य सभी घरों या फिर ऑफिस में काम करने वाले लोग थे।

माउंटन गाइड होते है अधिक प्रभावित –

माउंटन गाइड होते है अधिक प्रभावित Image source:

रिसर्च के बाद जो नतीजे सामने आए उसने पूरी तस्वीर को साफ कर दिया। इस शोध में पाया गया कि 33.3 प्रतिशत लोग जो माउंटेन गाइड का काम करते हैं, 27.4 फीसदी किसान, 19.5 फीसदी मालियों और 5.6 फीसदी घरों में काम करने वाले श्रमिकों में ये कैंसर होने के चांस काफी अधिक रहते है। इनमे से मांउटन गाइड इस खतरनाक बीमारी की चपेट में जल्दी आ जाते है।

hellois65

Copyright 2018 hindi.khoobsurati.com