ADVERTISEMENT

बार-बार वैक्‍स कराना त्वचा के ल‍िए हो सकता है खतरनाक

शरीर के अनचाहे बाल जहां एक ओर हमारे शरीर की खूबसूरती को बदरंग बनाते है तो दूसरी ओर इसे हटाने से शरीर को काफी नुकसान भी होता है। आज के समय में अनचाहे बालो को हटाने का सबसे सस्‍ता और आसान तरीका बन चुका है वैक्सिंग कराना। जिसका इस्तेमाल करने से आप 15 से 20 दिनों तक अनचाहे बालों से राहत पा सकती है बैसे कुछ लोग घर पर रेजर या हेयर रिमूवर का उपयोग करके इनसे छुटकारा पा लेते है पर इससे बालों की ग्रोथ जल्‍दी उग आती है।इसलिए वैक्सिंग अनचाहे बालों से लंबे समय तक छुटकारा पाने का सबसे अच्‍छा तरीका माना गया है। लेकिन बार-बार वैंक्सिग कराने से कई तरह की समस्याये पनपने लगती है। आइए जानते हैं कि वैंक्सिंग आपके शरीर के लिये किस प्रकार से हानिकारक है..

vax

त्वचा में लचीलापन आना –

त्वचा में लचीलापन आना

लड़कियों के शरीर की खूबसूरती बनी रहे, इसके लिये वो शरीर पर जरा सा बाल आना बर्दाश्त नही कर पाती। और जल्‍दी-जल्‍दी वैक्सिंग कराने लग जाती हैं। लेकिन क्या आप जानते है कि थोड़े अंतराल में बार-बार वैक्सिंग कराने से आपकी त्वचा अपना लचीलापन खोने लगती है। इससे त्‍वचा में जल्‍द ही झुर्रियों पड़ने की संभावना बढ़ जाती है। इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि आप वैक्‍स स्ट्रिप को कितनी आराम से निकालती है, लेकिन बार-बार ऐसा करने से निश्चित रूप से आपकी त्‍वचा ढ़ीली होने लगती है ।

जलन और लाल दाने –

जलन और लाल दाने

बार-बार वैक्सिंग कराते रहने से शरीर के आसपास लाल-लाल दाने पड़ने लगते है। संवेदनशील त्‍वचा वालों को अक्सर जलन की शिकायत होती है। बैक्सिग करने से काफी जलन और लाल दाने पड़ने से त्वचा भी खराब दिखने लगती है। जिसे दूर करने के लिये बर्फ की सिंकाई आपकी त्‍वचा को शांत करने में मदद करती है।

त्वचा पर चकत्ते –

त्वचा पर चकत्ते

वैक्सिंग कराने के बाद आपने महसूस भी किया होगा, कि आपकी त्वचा पर खुजलाहट बढने लगती है कही कहीं तो त्‍वचा पर चकत्ते और लाल दाने भी उभरने लगते हैं। अ‍त्‍यधिक संवेदनशील त्‍वचा के लिए बिकनी वैक्सिंग कई तरह की समस्‍याओं का कारण बन सकती है।

एलर्जी रिएक्शन –

एलर्जी रिएक्शन

जिनकी त्वचा अधिक संवेदनशील होती है उन्हें वैक्‍स प्रोडक्‍ट से एलर्जी की समस्या बहुत ज्‍यादा होती है। यदि आप भी इस तरह का कुछ महसूस करती हैं तो जल्‍दी से जल्‍द डॉक्‍टर से संपर्क करें।

वैक्सिंग करने से ब्लीडिंग –

वैक्सिंग करने से ब्लीडिंग

बार बार वैक्सिंग कराने से त्वचा संवेदनशील बन जाती है। जिससे आपको हल्की ब्लीडिंग भी होने लगती है।  क्‍योंकि बार-बार वैक्‍स कराने के दौरान होने वाले वैक्‍स स्ट्रिप खींचाव से त्वचा के रोमछिद्र खुल जाते है। जिससे ब्लड आने लगता है। फिलहाल ठंडा सेक लगाने से ब्लड को बंद किया जा सकता है।

इंफेक्‍शन होने का डर –

इंफेक्‍शन होने का डर

जब भी आप वैक्सिंग कराये तो उस दौरान वैक्‍स करने से पहले और बाद में त्वचा को साफ जरूर करें क्योकि वैक्सिंग के बाद त्वचा पर संक्रमण तेजी से फैलता है। इसलिये संक्रमण से बचने के लिये बैक्सिंग एयरकंडिशनर कमरे में ही होनी चाहिए। इसके अलावा गर्मियों में त्वचा पर हल्का-हल्का पसीना भी रहता है जिसके कारण यह सही तरीके से नही हो पाती हैं।

Copyright 2018 hindi.khoobsurati.com

X

खूबसूरती और सेहत का खज़ाना!

स्किनकेयर व मेकअप टिप्स, घरेलू नुस्खे और बहुत कुछ पाएं सिर्फ एक क्लिक पर

पाएं हमारे डेली अपडेट यहाँ.
By subscribing the page, I agree to the terms & conditions.