किशोरावस्था में मुहासों का होना एक समान्य प्रक्रिया है जो समय के साथ खत्म भी हो जाती है लेकिन आज के समय में मुहासे की समस्या 20 साल की उम्र से लेकर 30 साल तक की उम्र के लोगों में देखने को मिल रही है। जिसका प्रमुख कारण त्वचा का तैलीय होना, रोम छिद्रों का बंद होना, और मृत त्वचा कोशिकाओं के अतिरिक्त उत्पादन का होना आदि । इस समस्या से निपटने के लिए आज हम आपको कुछ खास उपायों से परिचित करा रहे है। जिसे अपनाने के बाद आप इस समस्या से जल्द ही छुटकारा पा सकती हैं तो जानें ऐसे खास घरेलू उपायों के बारें में..

1. मृत त्वचा कोशिकाओं को हटाने के लिए बर्फ के टुकड़े

मृत त्वचा कोशिकाओं को हटाने के लिए बर्फ के टुकड़े

बर्फ के टुकड़े काफी ठंडे होते हैं जो बैक्टीरिया को खत्म करने में मदद करते है। आपके चेहरे पर हो रहे मुहंसों से छुटकारा पाने का यह सबसे अच्छा उपाय है। इसका उपयोग करने से यह मृत कोशिकाओं को हटाता है।

कैसे इस्तेमाल करे:

एक साफ वॉशक्लॉथ लें, और उसमें कुछ बर्फ के टुकड़े लपेटें। अब, इसे धीरे से प्रभावित जगह पर लगाएं और कुछ मिनटों के लिए दबाएं। बाद में, अपने चेहरे को ठंडे पानी से धो लें। त्वचा की इस समस्या से निपटने के लिए इस उपाय का प्रयोग दिन में 2-3 बार करें।

2. टी ट्री ऑयल अशुद्धियों को रोकने के लिए

टी ट्री ऑयल अशुद्धियों को रोकने के लिए

टी ट्री ऑयल एक्सफ़ोलीएटिंग और एंटी-बैक्टीरियल गुणों से भरा होता है जो कील मुहासें को दूर करने में मदद करते है। इसके एलावा यह रोम छिद्रों को बंद होने से भी बचाता है।

कैसे इस्तेमाल करे:

एक छोटी कटोरी लें और 1/2 चम्मच नारियल के तेल में 2 बूंद टी ट्री ऑइल मिलाएं। उसके बाद प्रभावित क्षेत्र पर मिश्रण को थपथपाते हुये लगाये। और 3 से 4 मिनट के लिए छोड़ दें। फिर, अपने चेहरे को ठंडे पानी से धो लें। पिंपल फ्री स्किन पाने के लिए हफ्ते में एक बार इस उपाय का इस्तेमाल जरूर करें।

3. पिंपल्स से लड़ने के लिए दूध

पिंपल्स से लड़ने के लिए दूध

कच्चे दूध में एंटी-बैक्टीरियल गुण होते हैं जो एक प्रभावी तरीके से पिंपल्स का मुकाबला करने में मदद कर सकते हैं।

कैसे इस्तेमाल करे:

मुहासों से छुटकारा पाने के लिये कच्चे दूध को चेहरे पर लगायें। और 10 मिनट के लिए छोड़ दें। उसके बाद, अपने चेहरे को ठंडे पानी से धो लें। अच्छे परिणाम प्राप्त करने के लिए सप्ताह में 3 से 4 बार इस उपाय का उपयोग करें।

4. पिंपल्स के इलाज के लिए एप्पल साइडर विनेगर

 पिंपल्स के इलाज के लिए एप्पल साइडर विनेगर

ऐप्पल साइडर सिरका कील मुहासों को दूर करने में सबसे अच्छे प्रभावी उपायों में से एक है। इसमें मौजूद प्राकृतिक गुण बैक्टीरिया पैदा करने वाले संक्रमण को खत्म कर रोम छिद्रों को साफ करने में मदद करते है।

कैसे इस्तेमाल करे:

1 चम्मच distilled water में 2 बूंद सेब साइडर सिरका को मिलाएं। इसके बाद इसमें एक कॉटन बॉल भिगोएं और इसे प्रभावित जगह पर लगाएं। त्वचा की इस समस्या से छुटकारा पाने के लिए इस उपाय का उपयोग हफ्ते में 3 से 4 बार करें।

5. कील मुहासों से निपटने के लिए बेकिंग सोडा

कील मुहासों से निपटने के लिए बेकिंग सोडा

कील मुहासों के लिए बेकिंग सोडा अच्छा उपाय है। जिसमें जीवाणुरोधी गुण होते हैं जो कील मुहासें से निपटने में मदद करते है।

कैसे इस्तेमाल करे:

बस 1/2 चम्मच पानी के में एक चुटकी बेकिंग सोडा का मिश्रण करें। अब, इसे प्रभावित क्षेत्र पर इसे 5 मिनट तक रहने दें। बाद में, अपने चेहरे को ठंडे पानी से धो लें।

6. सेंधा नमक पिंपल की समस्या के इलाज के लिए

सेंधा नमक पिंपल की समस्या के इलाज के लिए

एप्सम सॉल्ट(सेंधा नमक) एंटी-इंफ्लेमेटरी गुणों से भरपूर होता है और इसी कारण से यह कील मुंहासों को दूर करने का सबसे बेहतर इलाज माना गया है।

कैसे इस्तेमाल करे:

इसका पयोग करने के लिये एक छोटी कटोरी में 1 चम्मच गुलाब जल में एक चुटकी एप्सम सॉल्ट मिलाएं। और इसे प्रभावित क्षेत्र पर लगाकर 3 से 4 मिनट के लिए छोड़ दें। उसके बाद अपने चेहरे को ठंडे पानी से धो लें। पिंपल्स से छुटकारा पाने के लिए सप्ताह में एक बार इस उपाय को दोहराएं।

7. रोम छिद्रों को साफ करने के लिए मुल्तानी मिट्टी

 रोम छिद्रों को साफ करने के लिए मुल्तानी मिट्टी

यह त्वचा से संबंधित विकारों कों दूर करने के लिये मुल्तानी मिट्टी का उपयोग प्राचीनकाल से होता आया है। इसमें मौजूद एंटी-ऑक्सीडेंट्स तत्वों के गुण त्वचा के रोम छिद्रों को साफ कर करते है और पिंपल के फटने से बचाते है।

कैसे इस्तेमाल करे:

मुल्तानी मिट्टी को गुलाब जल के साथ मिलाकर पेस्ट तैयार करें। और को प्रभावित क्षेत्र लगाकर 10 मिनट के लिए छोड़ दें और बाद में अपने चेहरे को ठंडे पानी से धो लें। त्वचा की इस समस्या से छुटकारा पाने के लिए सप्ताह में 2 से 3 बार इस उपाय का उपयोग करें।