ADVERTISEMENT

रूसी से छुटाकारा पाने के सबसे असान घरेलू उपाय (Home Remedies to Get rid of Dandruff)

बालों में डैंड्रफ होना भले ही हर-एक की आम समस्या बन चुकी है लेकिन इस समस्या के होने से बालों को काफी नुकसान पहुचता है जिससे झुटकारा पाने के लिये तरह तरह के उपाय भी करते है लेकिन इसका असर ना के बराबर ही देखने को मिलता है आज हम आपको कुछ ऐसे तरीकों के बारें में बता रहे है जिसे अजमाने के बाद आपके बालों को रूसी से झुटकारा तो मिलेगा ही साथ ही में आपके बाल सुंदर घने मजबूत होने के साथ चमकदार भी दिखेगें। तो जाने ऐसे प्राकृतिक घरेलू नुस्खे के बारें में..

• रूसी के प्रकार
• स्कैल्प का सूखापन
• स्कैल्प पर तेल की अधिकता
• फंगल डैंड्रफ
• रोग से संबंधित डैंड्रफ
• रूसी होने के कारण

 

रूसी

रूसी होने के कारण

• बालों में तेल का उपयोग ना करना
• गलत तरीके से कंघी करना
• बालों में पौषण की कमी
• शैंपू का ज्यादा प्रयोग करना
• अत्याधिक तनाव
• त्वचा संबंधी बीमारी

रूसी (डैंड्रफ) हटाने के घरेलू उपाय

आपको डैंड्रफ से छुटकारा दिलाने वाले कई आधुनिक तेल या शैंपू बाजार में देखने को मिल सकते है लेकिन इनसे होने वाले नाकारात्मक प्रभाव आपके बालों की समस्या को और अधिक बढ़ा देते हैं। यदि आप इन समस्या से बचना चाहते हैं, तो नीचे बताए जा रहे घरेलू नुस्खों को अपनाये। इसका उपयोग करने से आपके बालो में मजबूती के साथ प्राकृतिक निखर भी देखने को मिलेगा।

1. नीम

नीम

सामग्री:

• नीम के 8-10 सूखे पत्ते
• 4से 5 चम्मच जैतून का तेल

उपयोग करने का तरीका:

विधि-1

• सूखे नीम के पत्तों का पीसकर बारीक पाउडर बना लें।
• एक बाउल में नीम से बने पाउडर को डालकर उसमें जैतून का तेल मिला लें।
• इस मिश्रण को अच्छी तरह मिलाकर बालों की जड़ों पर लगाएं।
• इस पेस्ट को करीब एक घंटे तक ला रहने दें। इसका बाद शैंपू और कंडीशनर से बालों को धो लें।
• इस मिश्रण का उपयोग आप नहाने से पहले ही करें।
• इसके अलावा आप नीम की पत्तियों को उबालकर उसके पानी से भी बालों को धो सकते है।

फायदे

नीम एक गुणकारी औषधिय पेड़ है, इसमें एंटीबैक्टीरियल, एंटीइंफ्लेमेटरी और एंटीफंगल के गुण पाए जाते हैं, जो शरीर एंव त्वचा में होने वाले रोगों को दूर करने में मदद करते है। नीम का उपयोग स्कैल्प के संक्रमण और डैंड्रफ से छुटकारा पाने का एक सटीक घरेलू उपाय है।

2. नींबू

 नींबू

सामग्री:

• 5 चम्मच नारियल का तेल, 1 चम्मच नींबू का रस

उपयोग करने का तरीका:

• नींबू के रस को नारियल के तेल के साथ मिला लें।
• अब इस मिश्रण को नहाने से पहले बालों की जड़ों पर अच्छी तरह से लगाएं।
• आधे घंटे बाद बालों को हर्बल शैंपू से धो लें।

फायदे

स्कैल्प में अचानक हो रहे पीएच स्तर में असंतुलन से बालों में डैंड्रफ की समस्या बढ़ जाती है। इस समस्या को दूर करने के लिये नींबू के रस में मौजूद अम्ल स्कैल्प के पीएच स्तर को संतुलित करने में मदद करता है। रूसी की समस्या से निजात पाने के लिए आप नींबू के रस को इस प्रकार इस्तेमाल कर सकती हैं

3. मैथी

 

 मैथी

सामग्री

• एक चम्मच मैथी के दाने
• 2 कप गर्म पानी

उपयोग करने का तरीका:

• मैथी के बीजों को दो कप पानी में डालकर रात भर के लिए भिगोकर रख दें।
• सुबह इस पानी को छान लें।
• नहाने से 15 मिनट पहले इस मैथी के पानी को बालों पर लगाकर कुछ समय के लिये छोड़ दें।
• करीब 30 मिनिट के बाद बालों को हर्बल शैंपू से धो लें।

फायदे

मैथी में जरूरी न्यूट्रिएंट और मिनरल्स (मैग्नीशियम व पोटेशियम) का भरपूर मात्रा पाई जाती हैं, जो सिर से रूसी को हटाने में मदद करती है साथ ही इसका पयोग करने से आपके बालों स्वस्थ रहते है इसलिये मैथी का उपयोग करना आपके बालों के लिये काफी अच्छा उपाय है।

4. विनेगर

 विनेगर

सामग्री:

• 2 कप विनेगर
• एक कप पानी

उपयोग करने का तरीका:

• सबसे पहले विनेगर को गर्म कर लें।
• एक कप पानी में इसे मिला लें।
• नहाने से 15 मिनट पहले इस पानी से स्कैल्प की अच्छी तरह मसाज करें।
• करीब 20 मिनिट बाद बालों को शैंपू से धो लें।

फायदे

विनेगर सूखी त्वता को मुलायम बनाने का काम करता है। साथ ही स्कैल्प में मौजूद फंगस और बैक्टीरिया को आसानी से खत्म करने में मदद करता है। इसके साथ ही विनेगर में मौजूद एसिड सिर में होने वाली खुजली को भी कम करते है।

5. दही

 दही

सामग्री:

• एक कप दही

उपयोग करने का तरीका:

• सबसे पहले दही को बालों की जड़ों पर अच्छी तरह से लगाए।
• अब दही लगाने के बाद 15 मिनट के लिए छोड़ दें।
• इसके बाद शैंपू से अपने बालों को धो लें।

फायदे

स्कैल्प में मौजूद बैक्टीरिया फंगस को दूर करने का सबसे कारगर तरीका है दही का इस्तेमाल। दही ‘प्रोबायोटिक्स’ गुण से भरपूर होता है इसमें एंटीबैक्टीरियल और एंटीइंफ्लेमेटरी के गुण भी मौजूद होते है जो स्कैल्प के जीवाणुओं को साफ कर बालों को स्वस्थ बनाने मदद करते है।

6. सेब का सिरका

सेब का सिरका

सामग्री:

• 2-4 चम्मच सेब का सिरका
• 2-4 चम्मच पानी

उपयोग करने का तरीका:

• एक बाउल में सेब के सिरके और पानी को मिला लें।
• फिर बालों को शैंपू से धोने के बाद सिरके वाला पानी बालों और स्कैल्प पर लगाएं।
• करीब 15 मिनट बाद साफ पानी से बालों को धो लें।
• यह प्रक्रिया नहाने से पहले करें।

फायदे

सेब के सिरके का डैंड्रफ हटाने के सबस् अच्छा घरेलू उपाय हैं। सेब के सिरके में मौजूद एसिड स्कैल्प के पीएच स्तर को संतुलित करने में मदद करता है जिससे आप रूसी की समस्या से निजात पा सकते हैं

7. अंडा

 अंडा

सामग्री:

• 1-2 अंडों की जर्दी

उपयोग करने का तरीका:

• अंडों की जर्दी किसी बाउल में फेंट लें।
• अब स्कैल्प और बालों पर इसे लगाएं।
• शॉवर कैप से बालों को 30 मिनट तक के लिए ढक लें।
• 30 मिनट बाद शैंपू से बालों को अच्छी तरह धो लें।

फायदे

अंडे की जर्दी का उपयोग करके आप डैंडर्फ की समस्या से निजात पा सकते हैं। अंडी की जर्दी पाया जाने वाला बायोटिन उन खास विटामिनों में से एक है, जो डैंड्रफ से छुटकारा दिलाने में मदद करता है

8. एलोवेरा

 एलोवेरा

उपयोग करने का तरीका:

• नहाने से पहले एलोवेरा जेल को स्कैल्प और बालों पर अच्छी तरह लगाएं।
• इसके करीब 15 मिनट बाद सिर को शैंपू से धो लें।

फायदे

प्राकृतिक गुणों से भरपूर एलोवेरा का उपयोग त्वचा एंव बालों में निखार लाने के लिये किय जाता है इसमें मौजूद एंटीबैक्टीरियल और एंटीफंगल गुण बालों की जड़ों को मजबूत बनाकर झड़ने से रोकते है साथ ही डैंड्रफ की समस्या से निजात दिलाकर बालों को स्वस्थ रखने में मदद करते हैं

9. संतरे का छिलका

 संतरे का छिलका

सामग्री:

• संतरे के सूखे छिलके
• 5-6 चम्मच नींबू का रस

उपयोग करने का तरीका:

• संतरे के सूखे छिलकों को सबसे पहले पीसकर चूर्ण बना लें। अब इस चूर्ण को एक बाउल में डालकर उसमें नींबू के रस 4 से 5 बूदं डालकर मिला लें।

• अब इस पेस्ट को स्कैल्प और बालों की जड़ों पर लगाते हुये 25से 30 मिनट के लिए छोड़ दें।

• 30 मिनट बाद बालों को शैंपू से धो लें।

फायदे

अम्लीय गुणों से भरपूर संतरे का छिलका में एंटी बैक्टीरियल और एंटी फंगल के गुए पाये जाते है जो रूसी की समस्या से निजात पाने में मदद करते है।

10. तुलसी

तुलसी

सामग्री:

• 7-8 तुलसी के पत्ते
• दो चम्मच आंवला पाउडर

उपयोग करने का तरीका:

• तुलसी के पत्तों को पीसकर इसे आंवला के पाउडर के साथ मिलाकर एक पेस्ट तैयार करें।
• अब इस पेस्ट को मिश्रण बालों की जड़ो पर लगाकर 30 मिनट के लिए छोड़ दें।
• 30 मिनट बाद बालों को शैंपू से धो लें।

कैसे है लाभदायक

तुसली एक प्राकृतिक जड़ी-बूटी है, इसमें जीवाणुरोधी और एंटीफंगल गुण पाए जाते हैं यह शरीर के रोग को दूर करन के सथ डैंड्रफ से छुटकारा पाने का सबसे अच्छा औषधिय उपचार है।

11. आंवला

आंवला

साामग्री:

• 2 चम्मच आवंला पाउडर
• 2 चम्मच नारियल/जैतून का तेल

उपयोग करने का तारीका:

• नारियल या जैतून के तेल को इतना गर्म करें। जब तक तेल भूरा न हो जाए।
• तेल भूरा होने पर ठंडा होने के लिए रख दें।
• अब इसमें आंवला पाउडर डाल दें।
• स्कैल्प और बालों पर तेल को अच्छी तरह लगाएं।
• 10-15 मिनट तक सिर की मसाज करें।
• मसाज के बाद बालों को शैंपू से धो लें।

फायदे

कई पौषक तत्वों से भऱपूर आंवला में एंटीबैक्टीरियल व एंटीइंफ्लेमेटरी के गुण पाये जाते है। जो बालों को स्वस्थ रखने के साथ उसे सुदंर और चमकदार बनाने में मदद करते है। आंवले में मौजूद विटामिन-सी रूसी की समस्या को खत्म कर बालों को बढ़ने में मदद करते हैं।

12. हीना

 हीना

सामग्री:

• 1-चम्मच हीना पाउडर
• 1- चम्मच आंवला पाउडर
• 1- चम्मच चाय पाउडर
• 1- चम्मच नींबू का रस
• 1- चम्मच नारियल का तेल

उपयोग करने का तारीका:

• एक बाउल में उपर बताई गई सभी सामग्रियों को मिलाकर पेस्ट बना लें।
• पेस्ट को अच्छी तरह स्कैल्प पर लगाएं।
• 30 मिनट बाद बालों को शैंपू से धो लें।

फायदे

हीना बालों को स्वस्थ रखने के साथ उसकी हर समस्याओं से ढुटाकारा पाने के लिये हीना का उपयोग सबसे अच्छा उपचार माना गया है। हीना में एंटीबैक्टीरियल व एंटीइंफ्लेमेटरी गुण मौजूद होते है जो बालों को स्वस्थ रखते हुये रूसी की समस्या से झुटकारा दिलाते है।

13. टी ट्री तेल

टी ट्री तेल

 

सामग्री:

• 6-7 बूंदें टी ट्री तेल की
• शैंपू

उपयोग करने का तारीका:

• एक बाउल में शैंपू और टी ट्री तेल को अच्छी तरह मिला लें।
• मिश्रण को अच्छी तरह स्कैल्प पर लगाएं।
• पांच मिनट बाद पानी से बालों को धो लें।

फायदे

टी ट्री ऑयल एटीसेप्टिक, एंटिफंगल, एंटीबैक्‍टीरियल और एंटीऑक्‍सीडेंट के गुणों से भरपूर वा होता है जो संक्रमण को दूर करने उन्हें स्वच्छ और स्वस्थ बनाये रखने में मदद करता है। टी ट्री तेल रूसी से छुटकारा पाने का सटीक घरेलू उपाय है

14. अरंडी का तेल

अरंडी का तेल

सामग्री:

• 3-4 चम्मच अरंडी का तेल

उपयोग करने का तारीका:

• तेल को हल्का गर्म कर लें।
• रात सोने से पहले तेल को स्कैल्प और बालों पर लगाएं।
• सुबह शैंपू से बालों को धो लें।

फायदे

औषधिय गुणों से भरपूर अरंडी के तेल में एंटीमाइक्रोबियल के गुण पाए जाते हैं, जो डैंड्रफ और स्कैल्प के संक्रमण को दूर करने में मदद करते हैं। यह स्कैल्प और बाल को मॉइश्चराइज करके रूसी की समस्या से निजात देने में मदद करता है।
रूसी (डैंड्रफ) से होने वाले नुकसान – Side Effects of Dandruff in Hindi

बालों में रूसी का होना एक त्वचा संबधी समस्या है, जो आपके सिर की त्वचा के साथ बालों को भी बुरी तरह प्रभावित करती है। रूसी के दौरान स्कैल्प की मृत कोशिकाएं झड़ने लगती है जानिए, रूसी से होने वाले नुकसानों के बारे में।

• स्कैल्प में खुजली
• बालों का झड़ना
• बालों की चमक खत्म होना
• सिर में जलन
• स्कैल्प में दर्द
• मुंहासे
• रूसी (डैंड्रफ) से बचाव

सही शैंपू का चुनाव:

स्कैल्प में होने वाले सक्रंमण को रोकने के लिये बालों को साफ रखना काफी जरूरी होता है। इसलिये आप एक अच्छे एंटी-डैंड्रफ शैंपू का इस्तेमाल करें। हर्बल शैंपू एंटी बैक्टीरियल व एंटी इंफ्लेमेटरी गुण से परिपूर्ण होते हैं। ऐसे शेम्पू का उपयोग करने से आपको रूसी की समस्या से काफी निजात मिलेगा।

तनाव:

नींद का पूरा ना होना या फिर काफी तनाव का होना डैंड्रफ को बढ़ावा देने का कारण बनता हैं। इसलिए, दिनभर में अपनी शरीर को पर्याप्त आराम दें और तनाव मुक्त रहने की कोशिश करें।

सूर्य की किरणें:

सूर्य की तेज किरणें भी आपके बालों को प्रभावित करके डैंड्रफ और बाल झड़ने की समस्या खड़ी कर सकती हैं। इसलिये जितना हो सके सूर्य की तेज किरणों से अपने बालों को बचाने की कोशिश करें।

रसायन युक्त उत्पाद:

मार्केट में मिलने वाले ज्यादातर आधुनिक सौंदर्य प्रसाधन केमिकलयुक्त होते हैं, जो डैंडर्फ की समस्या का कारण बन सकते हैं। इसलिए, जितना हो सके बालों के लिए हर्बल उत्पादों का ही उपयोग करें। हर्बल उत्पाद रसायन और दुष्प्रभाव मुक्त होते हैं।

कंघी:

हेयर ब्रश साझा न करें: कभी भी अपना साबुन हेयर ब्रश, कंघी, तौलिया दूसरों से साझा नही करना चाहिये। इन चीजों को साझा करने से दूसरे के शरीर के फंगस और बैक्टीरिया आपके शरीर में दाखिल हो सकते हैं।
रूसी (डैंड्रफ) दूर करने के कुछ और उपाय

तेल मसाज:

स्कैल्प या बालों में जब रूखापन बढ़ जाता है तो डैंड्रफ का खतरा बढ़ जाता है, इसलिए बालों की जड़ों में तेल की मालिश करना बेहद जरूरी होता है। तेल बालों को जरूरी पोषण देते हैं और उन्हें मॉइश्चराइज रखते हैं। आप बालों के लिए नारियल या बादाम तेल का इस्तेमाल कर सकते हैं।

स्टीम थेरेपी:

आपके बालों में समय समय पर स्टीमिंग करना बालों को हाइड्रेट रखने का सबसे अच्छा कारगर तरीका है। स्टीम की गर्मी सिर का रक्त संचार तेजी से होने लगता है। स्टीम बालों की गहराई तक जाता है और क्षतिग्रस्त बालों को ठीक करता है। स्टीम बालों को मॉइश्चराइज कर, उन्हें बढ़ने में भी मदद करता है।

एस्पिरिन:

रूसी की समस्‍या से छुटकारा पाने के लिए आप एस्पिरिन गोली का भी इस्तेमाल कर सकते हैं। बालों से रूसी को दूर करने के लिये आप एस्पिरिन की गोलियों का पाउडर बनाकर उसे शैंपू के साथ मिलाकर बालों पर अच्छी तरह लगाएं और दो मिनट बाद साफ पानी से बालों को धो लें। जो बालों में होने वाली समस्या को खत्म करने में मदद करता है

नमक:

डैंड्रफ को जड़ से हटाने के लिय घर पर उपयोग किया जाने वाला नमक सबसे अच्छा घरेलू उपाय है। इसका उपयोग करने के लिय आप पहले बालों को गिला कर लें और फिर दो चम्मच नमक लेकर स्कैल्प की अच्छी तरह मसाज करें। 10 मिनट बाद बालों को शैंपू से धो लें।

बेबी ऑयल:

डैंड्रफ की समस्या से निजात पाने के लिए आप बेबी ऑयल का भी इस्तेमाल कर सकते हैं। इस तेल का प्रयोग आप रात में सोने से पहले करें। बेबी ऑयल से अपने स्कैल्प की अच्छी तरह मसाज करें और फिर तौलिये या किसी अन्य साफ कपड़े से सिर को ढक लें और रात भर के लिए छोड़ दें। सुबह बालों को शैंपू से धो लें।

जोजोबा तेल:

जोजोबा तेल में विटामिन-ई होता है, जो स्कैल्प की सूखी त्वचा को पोषण प्रदान करने में मदद करता है और स्कैल्प को हाइड्रेटेड बनाये रखता है

 

Copyright 2018 hindi.khoobsurati.com

X

खूबसूरती और सेहत का खज़ाना!

स्किनकेयर व मेकअप टिप्स, घरेलू नुस्खे और बहुत कुछ पाएं सिर्फ एक क्लिक पर

पाएं हमारे डेली अपडेट यहाँ.
By subscribing the page, I agree to the terms & conditions.