_ap_ufes{"success":true,"siteUrl":"hindi.khoobsurati.com","urls":{"Home":"https://hindi.khoobsurati.com","Category":"","Archive":"https://hindi.khoobsurati.com/2018/11","Post":"https://hindi.khoobsurati.com/these-celebrities-gave-shelter-to-orphans-and-destitute.html","Page":"https://hindi.khoobsurati.com/contact-us.html","Attachment":"https://hindi.khoobsurati.com/these-celebrities-gave-shelter-to-orphans-and-destitute.html/img_%e0%a4%b8%e0%a5%81%e0%a4%ad%e0%a4%be%e0%a4%b7-%e0%a4%98%e0%a4%88-_2018_11","Nav_menu_item":"https://hindi.khoobsurati.com/52144.html","Custom_css":"https://hindi.khoobsurati.com/smart-mag.html","Oembed_cache":"https://hindi.khoobsurati.com/102ebe2e07459f025b95ebe02763198d.html","Acf":"https://hindi.khoobsurati.com/?acf=acf_url","Wpcf7_contact_form":"https://hindi.khoobsurati.com/?post_type=wpcf7_contact_form&p=53539"}}_ap_ufee

कैसे करें, शिशु के जन्म लेने से पूर्व की खास तैयारी

यदि, आप पहली बार माता पिता बनने जा रहे हैं तो ज़ाहिर सी बात है कि आपके अंदर कितनी खुशी होगी। वही दूसरी ओर आप कितने प्रकार की योजनाये भी कर रहे होगे.. की क्या, और कैसे करें, ताकि उसकी सभी ज़रूरतें पूरी हो सकें। नवजात बच्चे को किसी भी प्रकार की तकलीफ का सामना ना करना पड़े। अक्सर हर पेरेंट्स इस बात को लेकर चिंतित रहते हैं क्योंकि उनके लिए यह एकदम नया अनुभव होता है और एक अच्छे और अनुभवी, ज़िम्मेदार माता पिता होने के नाते वे अपने बच्चे के लिए बेस्ट से बेस्ट ही करना चाहते हैं। आज हम अपने आर्टीकल के द्वारा आपकी हर समस्या का सामाधान करने जा रहे है जिससे पढ़ने के बाद आप सब कुछ बड़े ही आसानी से सीख सकते हैं। और उन सभी जरूरतों को पूरा कर सकते है कि आपका नया मेहमान जब घर आए, तो उसकी देखभाल में कोई कमी न रह जाए और आपको भी परेशानी न हो। तो जानते है कि अपने नन्हे मेहमान की ज़रूरत का सारा सामान किस प्रकार से एकत्रित करें…

नवजात बच्चे

फीडिंग –

फीडिंग

नवजात बच्चे के लिये सबसे जरूरी आहार होता है स्तनपान । फीड कराने के दौरान बैसे तो माताओं को किसी भी उपकरण की ज़रूरत नहीं पड़ती, लेकिन जब किसी भी प्रकार कि दिक्कत होती है तो उस समय के लिए बेहद मददगार साबित होतीं है जैसे,

बर्प क्लॉथ: बच्चे को फीड कराने के बाद उन्हें डकार दिलाना आवश्यक होता है। कई बार डकार दिलाने के दौरान अक्सर बच्चा मुँह से थोड़ा दूध बाहर निकाल देता है। ऐसे में डकार दिलाते वक़्त एक सॉफ्ट कपड़ा  अपने पास में रखना जरूरी होता ताकि आपके या फिर बच्चे के कपड़े खराब न हो।

ब्रेस्ट पंप: कई बार बच्चे पूरी तरह से स्तनपान नही कर पाते। जिसके कारण माता के स्तन कठोर होने लग जाते है। उनमें गाठें पड़ने लगती है जिससे काफी दर्द का सामना करना पड़ता है। इसके लिये सबसे जरूरी होता है ब्रेस्ट पंप जिसकी मदद से आपको दर्द से राहत मिलेगी। इसके लिए आप इलेक्ट्रिक ब्रैस्ट पंप या फिर मैन्युअल का इस्तेमाल कर सकती हैं।

ब्रेस्ट पंप

मिल्क स्टोरेज कंटेनर –

मिल्क स्टोरेज कंटेनर

यदि आप ब्रेस्ट पंप का उपयोग कर रही हैं तो स्तन से निकले दूध को आप एक साफ वर्तन में स्टोर करके रख सकती हैं ताकि जब आप घर पर न हों तो आपके बच्चे को मां का दूध मिल सके।

बिब्स: बच्चों को दूध पिलाते समय बिब्स की ज़रुरत ख़ास तौर पर पड़ती है।

नर्सिंग पिलो: स्तनपान के समय बच्चे को पूरे अराम के साथ दूध पिलाना चाहिये। ताकि बच्चा भी आराम से दूध पी सके। इसके लिये जरूरी होता है कि आप किसी सॉफ्ट तकिये को अपने पीछे रख लें और अपनी पीठ को सपोर्ट देकर अराम से बैठ जाये जिससे जच्चा बच्चा दोनो को किसी भी प्रकार काी परेशानी ना हो।

नर्सिंग पिलो

नर्सिंग ब्रा: स्तनपान कराने के दौरान आप सामान्य साइज़ से बड़े साइज की ब्रा खरीदें। टाइट ब्रा आपके शरीर को गांठ जैसी समस्या उत्पन्न कर सकती है।

ब्रैस्ट पैड्स: कई बार महिलाओं को अधिक दूध बनने से दूध का रिसाव होने लगता है इसके लिए आप ब्रैस्ट पैड्स का इस्तेमाल कर सकती हैं। ब्रैस्ट पैड्स डिस्पोजेबल भी उपलब्ध होते हैं या फिर आप इन्हें घर पर भी धो सकती हैं।

ब्रैस्ट पैड्स

कपड़े –

 कपड़े

नवजात बच्चे के लिए कपड़ों की जरूरते काफी होती है क्योकि समय समय पर कपड़ें गदें होते रहते है। बच्चे को कपड़ें काफी साफ्ट वाले होने चाहिये। इसके लिये जरूरी है कि सबसे पहले बच्चे को लपेटने के लिए चादर,पूरे और आधे आस्तीन के कपड़े,आगे बटन वाली शर्ट, कम से कम पांच से छ: जोड़ी पैंट,दो से तीन जोड़े दस्ताने स्वेटर, बच्चे का साफ्ट कम्बल, रूई, बच्चे के कपड़े धोने के लिए डिटर्जेंट, साथ ही में मां के लिये नाईट गाउन/फीडिंग नाइटी टॉप और पायजामा का सेट, एक जोड़ी ज़िप्पर वाली स्ट्रेटची चप्पल,कार्डिगन और स्वैटशर्ट अपने पास रखना चाहिये।

डायपरिंग –

डायपरिंग

 

बच्चे के साइज़ के अनुसार आप पहले से ही दर्ज़न भर डायपर खरीद कर रख लें। यदि आप कपड़े वाले डायपर का उपयोग कर रही हैतो वाटरप्रूफ कवर अपने साथ रखें। रबर के मैट, डायपर रैश क्रीम, डिस्पोजेबल वाइप्स आदि अपने पास रखें।

नवजात बच्चे की मालिश के लिये तेल, नहलाने वाला बेबी बाथ टब, शैम्पू और बेबी साबुन,बालों के लिए तेल, नरम मुलायम तौलिया, नरम दांतों वाली कंघी आदि अपने पास रखें।

बेडटाइम –

बेडटाइम

मालिश करने के बाद हर बच्चे को नींद बेहतर आती है। इसके लिये जरूरी है कि कि उसके लिये बच्चे वाला पालना, पालने में बिछाने के लिये नरम गद्दा, ओढ़ने के लिये  नरम मुलायम चादर जो पालने में आसानी से फिट हो जाएं ।पालने का गद्दा वाटरप्रूफ होना चाहिये। सोते समय बच्चे के आस पास खिलौने न रखें।

बच्चे के लिए खास जरूरी समानों में रोक्किंग, चेयर/बूस्टर सीट, सर्दी, खांसी के लिये दवा के लिए कुछ आम दवाइया ड्रॉपर ,हल्के बुखार के लिए बेबी थर्मोमीटर, बच्चे के कपड़े गीले ना रहे इसके लिये हेंगर, बच्चे के कपड़े रखने के लिए बास्केट, गंदे डायपर के लिए डस्टबिन ,अच्छी लोरियों की सीडी…

यह सूची हमने पहली बार बनने वाले पेरेंट्स के कार्यों को ध्यान में रखते हुये तैयार की है। इस सूची में जितनी भी चीज़ों का ज़िक्र किया गया है वह सब आपके बच्चे के लिए काफी ज़रूरी है। इनमें से कुछ चीजें ऐसी भी है आपके बच्चे के घर आते ही आपको पड़ती है।