_ap_ufes{"success":true,"siteUrl":"hindi.khoobsurati.com","urls":{"Home":"https://hindi.khoobsurati.com","Category":"","Archive":"https://hindi.khoobsurati.com/2018/06/","Post":"https://hindi.khoobsurati.com/%e0%a4%ae%e0%a4%a6%e0%a4%b0-%e0%a4%9f%e0%a5%87%e0%a4%b0%e0%a5%87%e0%a4%b8%e0%a4%be-%e0%a4%a6%e0%a5%8d%e0%a4%b5%e0%a4%be%e0%a4%b0%e0%a4%be-%e0%a4%ac%e0%a4%a4%e0%a4%be%e0%a4%88-%e0%a4%87%e0%a4%a8/","Page":"https://hindi.khoobsurati.com/contact-us/","Attachment":"https://hindi.khoobsurati.com/?attachment_id=52181","Nav_menu_item":"https://hindi.khoobsurati.com/52144/","Custom_css":"https://hindi.khoobsurati.com/smart-mag/","Oembed_cache":"https://hindi.khoobsurati.com/102ebe2e07459f025b95ebe02763198d/","Acf":"https://hindi.khoobsurati.com/?acf=acf_url"}}_ap_ufee

जानें कौनसे महीने में की गई शादी होती है खास

कहते है शादी के जोड़े ऊपर से बनकर आते है और शादी के बाद होने वाला अच्छा या बुरा, सब उनकी किस्मत से जुड़ा रहता है। तभी तो नवविवाहित जोड़ों को हमेशा एक ही शिकायत रहती है खासकर लव मैरिज करने वालो को, कि शादी से पहले उनके साथी कुछ और थे अब कुछ और। वे जितने रोमांटिक मूड के हुआ करते थे,अब अचानक ही उनमें बदलाव सा देखने को मिलता है। लेकिन अपने इस बात को जानने कि कोशिश की है कि हर किसी जोड़े के साथ शादी के बाद स्वभाव में होने वाले परिवर्तन का कारण क्या है।

क्या है कारण…?

इसके कारण यदि जानने की कोशिश करेंगे तो आपके मन में सिर्फ यही सवाल होगा कि आपने जिस साथी का चुनाव किया है उसे पहचानने में कहीं गलती तो नहीं हो गई या फिर किसी गलत मुहुर्त में हुई शादी, जो आपके जीवन की असफलता का कारण बनी है। लेकिन इसके पीछे के कारण कुछ और ही है।

weddingImage Source:

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार –
ज्योतिष की गणनानुसार हमारा जन्म बारह राशियों के मुताबिक होता है। जिस प्रकार से जन्म लेते ही बच्चे की गणना जन्म तिथि, समय एवं नक्षत्र को आधार बनाकर उसके भविष्य को निर्धारित किया जाता है। उसी प्रकार से हमारी शादी भी एक खास राशि चिह्न से जुड़ी होती है और यही बारह राशि चिह्न भी हमारी शादी शुदा जिदंगी में गहरा असर डालते है।
जानें बारह राशि चिह्न जो प्रभावित करते हैं आपकी मैरेड लाइफ

अंग्रेजी कैलेंडर के हिसाब से यदि किसी का जन्म मार्च 21 से 19 अप्रैल के बीच हुआ है, तो वह मेष राशि वाला कहलाता है। इसी प्रकार से किसी लड़के-लड़की की शादी इन्हीं तिथियों में मार्च 21 से 19 अप्रैल के बीच होती है यह शादी मेष राशि चिह्न की कहलाती है। उन दोनों पर मेष राशि का प्रभाव होता है। इससे जुड़े हर अच्छे बुरे सभी प्रभाव वर-वधु को एक-एक करके प्रभावित करते हैं। तो आज हम आपको शादी के हर महिनों के बारे में बताने रहे हैं, जो आपकी शादी शुदा जिंदगी को प्रभावित कर सकते हैं।

Indian WeddingsImage Source:

1. मेष राशि से संबंधित विवाह
यदि आपका विवाह 21 मार्च से 19 अप्रैल के बीच हुआ है, तो आप का विवाह मेष राशि से प्रभावित विवाह है। मेष राशि के जातक रोमांच पसंद वाले होते हैं और कुछ गुस्सैल प्रवृति वाले भी होते हैं। ये लोग जो ठान लेते है उसे करके दिखाते हैं, कुछ ऐसी ही होती है मेष राशि से प्रभावित शादी। यदि किसी की शादी इस तारीख पर हुई है तो उनकी शादी में रोमांस, अचानक होने वाली अच्छी-बुरी घटनाएं, जैसे अचानक कुछ भी नया हो जाना, इस तरह की प्रतिक्रियाएं लगी रहेंगी। इतना ही नहीं, इनका साथी कब किस मूड में आ जाये यह कहना बेहद ही मुश्किल होता है ।

wedding month meanings3Image Source:

2. वृषभ राशि से संबंधित विवाह
(20 अप्रैल से 20 मई) के बीच होने वाले विवाह वृषभ राशि से प्रभावित होते है। जो लोग अपने जीवन में अच्छा रोमांस और प्यार भरी जिंदगी चाहते है तो यह समय उनके लिये काफी अच्छा होता है। जी हां… वृषभ राशि से प्रभावित इस तारीख की शादी सबसे ज्यादा रोमांटिक जोड़ो के लिए मानी जाती है, क्योंकि इन तारीखो और महिनें में किया गया विवाह प्यार और वासना से भरे ग्रह ‘शुक्र’ से जुड़ा होता है।

wedding month meanings4Image Source:

3. मिथुन राशि से संबंधित विवाह
(21 मई से 20 जून) इस बीच होने वाला विवाह मिथुन राशि से प्रभावित होते हैं, इन महिने में की गई शादी सफल और असफल दोनों हो सकती है। जिस तरह से मिथुन राशि अपने आप में दो तरह के स्वभाव को दर्शाती है, उसी तरह से है मिथुन राशि से प्रभावित शादियों के परिणाम भी होते है। यदि इस महिने के भीतर हुई शादी में लड़का या लड़की दोनों में से कोई एक जरूरत से ज्यादा कटुवचन बोलता हो, या बिल्कुल से चुप रहने वाला हो, तो यह शादी के टूटने के चांस जल्द ही बन जाते है।

4. कर्क राशि से संबंधित विवाह
(21 जून से 22 जुलाई) तक के बीच होने वाली शादी कर्क राशि से प्रभावित होती है। कर्क राशि अपनी भरपूर जिम्मेदारी और प्यार के लिए जानी जाती है, और इस महिने पर की जाने वाली शादी, इसी प्रकार से प्रभावित होती है। इस शादी में पति-पत्नी दोनों एक दूसरे के प्रति हमेशा कृतज्ञ रहते है। ये लोग घर परिवार की मूल जरूरतें, उनकी खुशी, बच्चों की खुशी का ध्यान रखते हैं और आने वाले भविष्य को मजबूत बनाने वाले होते है।

wedding month meanings5Image Source:

5. सिंह राशि से संबंधित विवाह
(23 जुलाई से 22 अगस्त) तक के बीच होने वाली शादी सिंह राशि से प्रभावित होती है। सिंह राशि सभी राशियों में सबसे अधिक शक्तिशाली राशि चिह्न होती है, और इसी तरह से मजबूत होती है इस राशि की शादी। एक दूसरे का साथ देना, एक दूसरे पर पूरी तरह से समर्पित रहना, प्यार, और महंगी चीज़ों के प्रति दोनों का आकर्षण इन राशि वालों के लक्षण है।

wedding month meanings6Image Source:

6. कन्या राशि से संबंधित विवाह
(23 अगस्त से 22 सितंबर) तक के बीच होने वाले विवाह कन्या राशि से प्रभावित होते हैं। इस राशि से प्रभावित जोड़े बहुत ही संवेदशील जीवन जाने वाले होते हैं। ये लोग मिलकर हर परिस्थितियों का सामना करने को तैयार रहते हैं। इस राशि के वैवाहिक जोड़े हमेशा एक दूसरे का साथ देने को तैयार रहते है।

wedding month meanings7Image Source:

7. तुला राशि से संबंधित विवाह
(23 सितंबर से 22 अक्टूबर) तक के बीच हुआ विवाह तुला राशि से प्रभावित होता है। यह वैवाहिक जोड़े हर तरह से अपने आपको कंट्रोल करके चलते है। क्योंकि तुला राशि ही नियंत्रित स्वभाव वाली होती है। इसलिए इनके जीवन में ना अधिक प्यार, ना अधिक झगड़े, ना अधिक परेशानियां और ना अधिक रोमांस बस एक सीमित मात्रा में रहकर अपना जीवन गुजर बसर करते है।

wedding month meanings8Image Source:

8. वृश्चिक राशि से संबंधित विवाह
(23 अक्टूबर से 21 नवंबर) तक के बीच होने वाले विवाह वृश्चिक राशि से प्रभावित होते है। इस शादी में सेक्स, पैसा और धोखा… सबसे अधिक देखने को मिलता है। इन महिनें में होने वाली शादी के कपल्स की सेक्स लाइफ काफी उग्र होती है। जिसकी पूर्ति के लिए ये लोग शारीरिक रिश्तों की हर सीमा को पार कर जाने में पीछे नहीं रहते। इसलिए दूसरे जोड़ों की कपल की तुलना में, इन जोड़ा का परिणाम यह निकलता है कि इनकी संताने जल्दी होती है और जिसके चलते इनका परिवार भी बढ़ने लगता है।

wedding month meanings9Image Source:

9. धनु राशि से संबंधित विवाह
(22 नवंबर से 21 दिसंबर) तक के बीच होने वाला विवाह धनु राशि से प्रभावित होता है। यह सभी शादियों में सबसे अच्छी शादी कहलाई जाती है, क्योंकि इसमें दोनों ही जीवन के हर क्षणों को पूरे एन्जॉव के साथ जीते हैं। और इनकी जिंदगी बड़ी ही संतुष्टि के साथ चलती है।

wedding month meanings10Image Source:

10. मकर राशि से संबंधित विवाह
(22 दिसंबर से 19 जनवरी) तक के बीच होने वाले विवाह मकर राशि से प्रभावित होती हैं। इस महिने में होने वाली शादी के जोड़े अपनी जिंदगी की जिम्मेदारियों को बाखूबी निभाते है। पर इनकी जिंदगी जिम्मेदारियों को निभाने में ही निकल जाती है। आपस में प्यार रोमांस करने का समय ही नहीं रहता और ना ही खुद के विषय में सोचते हैं। बस अपने भविष्य को मजबूत करने में ही लगे रहते है।

wedding month meanings11Image Source:

11. कुम्भ राशि से संबंधित विवाह
(20 जनवरी से 18 फरवरी) तक के बीच हुए विवाह कुम्भ राशि से प्रभावित होते हैं। इस समय पर किए गए विवाह के परिणाम सभी से खास होते हैं। ये लोग कि जिंदगी काफी आराम भरी होती है। हर समय एक दूसरे को सरप्राइज देते हैं और खुश रहते हैं।

wedding month meanings12Image Source:

12. मीन राशि से संबंधित विवाह
(19 फरवरी से 20 मार्च) तक के बीच हुई शादी मीन राशि से प्रभावित होती हैं। इस महिनें में विवाह करने वाले जोड़ों की जिंदगी काफी इमोशनल भरी होती है। ये एक दूसरे के प्रति काफी संवेदनशील होते हैं और दोनों में से एक शादी में लिए गए वचनों को पूरी तरह से निभाता है। उसे समझता है।

wedding month meanings13Image Source:

hellois92

Copyright 2018 hindi.khoobsurati.com