_ap_ufes{"success":true,"siteUrl":"hindi.khoobsurati.com","urls":{"Home":"https://hindi.khoobsurati.com","Category":"","Archive":"https://hindi.khoobsurati.com/2018/07/","Post":"https://hindi.khoobsurati.com/make-sweet-sattu-at-home-by-this-method-and-reap-its-various-benefits/","Page":"https://hindi.khoobsurati.com/contact-us/","Attachment":"https://hindi.khoobsurati.com/?attachment_id=52878","Nav_menu_item":"https://hindi.khoobsurati.com/52144/","Custom_css":"https://hindi.khoobsurati.com/smart-mag/","Oembed_cache":"https://hindi.khoobsurati.com/102ebe2e07459f025b95ebe02763198d/","Acf":"https://hindi.khoobsurati.com/?acf=acf_url"}}_ap_ufee

बांझपन की समस्या को दूर करता है यह विशेष योग आसन

बांझपन किसी भी महिला के लिए श्राप से कम नहीं होता। आज के समय में बहुत सी स्त्रियां इस समस्या से पीड़ित हैं। आपको बता दें कि यदि एक वर्ष तक लगातार संबंध बनाने के बाद भी यदि कोई स्त्री गर्भ धारण नहीं कर पाती है तो यह माना जाता है कि स्त्री अथवा पुरुष में से किसी को प्रजनन संबंधी समस्या है। यदि यह समस्या स्त्री में निकलती हैं तो इसे सामान्यतः बांझपन की समस्या कहा जाता है। आपको बता दें कि योग में न सिर्फ बहुत सी शारारिक समस्याओं का निदान है बल्कि इसमें स्त्री संबंधी कई समस्याओं का समाधान भी दिया गया है। हमारे पूर्वजों ने योग में बांझपन की समस्या का समाधान भी एक विशेष आसन के रूप में दिया हुआ है। आज हम आपको इस विशेष आसन के बारे में तथा उसके अन्य लाभों के बारे में यहां जानकारी दे रहें हैं। आइये अब आपको बताते हैं उस आसन तथा उसको करने की विधि के बारे में।

चक्रासन करता है बांझपन का निदान –

चक्रासन करता है बांझपन का निदानImage source:

चक्रासन वह आसन है, जिसमें आपके शरीर की स्थिति चक्र की तरह बन जाती है। अतः इस आसन को चक्रासन कहा जाता है। आइये अब आपको इस आसन को करने की विधि बताते हैं।

चक्रासन करने की विधि –

सबसे पहले आप जमीन पर लेट जाएं। अब आप अपने घुटनों को मोड़ लें तथा अपने दोनों हाथों को अपनी गर्दन के पीछे ले जाएं। इसके बाद आप हाथों की हथेलियों तथा पैरों से कुछ बल लगाकर अपनी कमर वाले भाग को ऊपर उठायें। इस स्थिति में आप स्थिर बनी रहें तथा धीमे धीमे सामान्य रूप से सांस लेती रहें। अब आप धीरे धीरे कमर को नीचे करें। इसके बाद पैरों को सीधा करें तथा उसके पश्चात अपने हाथों को पीछे से आगे सामान्य अवस्था में ले आएं। यह एक चक्र पूरा हुआ। इस प्रकार आप एक समय में 4 से 5 चक्र पुरे कर सकती हैं।

चक्रासन के लाभ –

चक्रासन के लाभImage source:

सबसे बड़ी बात तो यही है कि यह आसन बांझपन की समस्या में बहुत लाभकारी सिद्ध होता है। इसके अलावा भी इसके बहुत से लाभ हैं। आपको बता दें कि यदि आपको अपने चेहरे पर नई चमक तथा निखार चाहिए तो यह आसन बहुत लाभकारी होता है, जो महिलायें तथा पुरुष मोटापे से परेशान हैं। वे इस आसन की मदद से अपनी चर्बी को खत्म कर सकते हैं। जिन लोगों को कमर दर्द होता है। उनके लिए भी यह बहुत लाभकारी होता है। इस आसन से रीढ़ की हड्डी लचीली बन जाती है। यह आसन आपकी युवा अवस्था को ज्यादा समय तक बरकरार रखता है। इसके उपयोग से बुढ़ापा हमेशा दूर रहता है। आप इस आसन की वीडियो देखकर इसको यहां आसानी से समझ सकती हैं।

Video source:

hellois92

Copyright 2018 hindi.khoobsurati.com