क्या ज्यादातर महिलाएं होती हैं ऑनलाइन धोखाधड़ी का शिकार? यदि हाँ, तो क्यों?

आज के समय में ऑनलाइन शॉपिंग अच्छा और सबसे असान तरीका बन चुका है क्योकि इसकी खरीदारी से लोगों का समय बचने के साथ घर बैठे खरीदारी हो जाती है। साथ ही नये नये ऑफर के साथ विशेष छुट भी मिलती है।

हाल ही में  किए गए अध्य्यन से पता चला है कि भारत में ऑनलाइन खरीदारी करने वालों में पुरूषों की अपेक्षा महिलाओं की संख्या में काफी बढ़ोत्तरी हुई है। लेकिन महिलाए जितनी ज्यादा खरीदारी कर रही है उतनी ही ज्यादा अधिक ऑनलाइन फ्रौड का शिकार हो रही हैं  क्योकि हर फ्रौड लोगों के लिए महिलाओं को झांसे में लाना ज्यादा आसान होता है। वो महिलाओं को टारगेट बनाते है फिर गुमराह करके आसानी से उन्हें लूट लेते हैं।

ऑनलाइन शॉपिंग

क्यों महिलाएं हो रही ज्यादा शिकार –

क्यों महिलाएं हो रही ज्यादा शिकार

एक सर्वे के अनुसार पुरुषों के मुकाबले महिलाएं औनलाइन फ्रौड का शिकार ज्यादा होती हैं क्योंकि वो ज्यादातर शौपिंग ऑनलाइन प्लेटफॉर्म से करती है. आपको बता दें कि पुरूषों की अपेक्षा महिलाओं को ऑनलाइन बैंकिंग और मोबाइल एप्स की जानकारी कम होती है जिसका फायदा उठाकर हैकर या ठग गैंग फोन कॉल के जरिए ऐसी ही महिलाओं से जुड़ते हुए टेक्निकल सपोर्ट सर्विस का हवाला देकर उनसे बैंकिंग से जुड़ी तमाम जानकारियां इक्ट्ठी कर लेते है। इसके बाद उनके बैंक खातों से पैसा उड़ा लेते हैं।

पुरुष भी बच ना सकें –

पुरुष भी बच ना सकें -

रिपोर्ट के मुताबिक, एक दूसरा पहलू यह भी सामने आया है। पुरुष भले ही फ्रौड का शिकार कम बने है लेकिन औसतन में वे 3 गुना ज्यादा पैसे का नुकसान उठाते हैं। इसका मतलब ये है कि कुल रकम के लुटाने में पुरुष महिलाओं से 3 गुना आगे हैं।

कैसे बचें इन फ्रौड्स से:

सुरक्षित नेटवर्क से ही एकाउंट एक्सेस करें  –

सुरक्षित नेटवर्क से ही एकाउंट एक्सेस करें

ट्रांजेक्शन करने से पहले ये देखें कि आपका इंटरनेट कनेक्शन पासवर्ड से सुरक्षित है या नही. साइबर कैफे या फ्री वाई-फाई से इंटरनेट बैंकिंग या ऑनलाइन ट्रांजेक्शन बिल्कुल भी न करें। क्योकि अधिकांश ऑनलाइन बैंकिंग वेबसाइट घर से या ऑफिस से एक्सेस की जाती हैं. इसे सुरक्षित बनाने के लिए कंप्यूटर से लॉग-ऑफ होना  और समय-समय पर कैशे मेमरी को क्लियर करना काफी जरूरी है।

बैंक या कार्ड संबंधी जानकारियों को साझा ना करें –

बैंक या कार्ड संबंधी जानकारियों को साझा ना करें

आप बिना कुछ जाने समझे किसी भी व्यक्ति को अपने कार्ड की जानकारियां साझा ना करें. फ्रॉड लोग आपको फोन कर के आपके कार्ड से जुड़ी तमाम जानकारिया हासिल कर लेते हैं, फिर इसी जानकारी से आपके खाते से राशि उड़ा ले जाते हैं। इससे बचने के लिए आप किसी भी व्यक्ति से अपने बैंक या कार्ड से जुड़ी जानकारियों को साझा ना करें।  इस बात का भी अवश्य ध्यान रखें, यदि कोई व्यक्ति आपको फोन करके खुद को बैंक का प्रतिनिधि बताकर आपसे आपकी निजी सूचनाएं मांग रहा है तो बिना कुछ देक किये तुरंत इसकी जानकारी पुलिस को दें और शिकायत करें। ऑनलाइन खरीदारी करते वक्त हमेशा सतर्कता बरते। और इस बात का भी खास ध्यान रखें कि आपके कार्ड या बैंक से जुड़ी जानकारी ब्राउजर में सेव ना हो।